दिल्ली नगर निगम की बैठक बुधवार को होगी, पेश होंगे 22 प्रस्ताव, हंगामा के आसार

Spread the love

नई दिल्ली. दिल्ली नगर निगम की सदन की अगली बैठक बुधवार को होने जा रही है, पिछली बैठक महज 5 मिनट में हंगामा की भेंट चढ़ गई थी और हंगामा के बीच सत्ता पक्ष ने 50 से ज्यादा प्रस्ताव को बिना चर्चा के पास कर लिया था, जिसका विपक्षी पार्षदों ने जमकर विरोध किया , आगामी बैठक में एक बार फिर सत्ता पक्ष की तरफ से 22 प्रस्ताव पेश किए जाने हैं, जिसे चर्चा के बाद पास कराया जाना है, लेकिन विपक्ष के तेवर से साफ है कि बैठक में हंगामा होने के पूरे आसार है.

बुधवार को होने वाली बैठक के लिए जो प्रस्ताव रखे जाने हैं उसमें मुख्य रूप से दिल्ली नगर निगम के स्कूलों के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगाना, स्कूलों के अंदर सुरक्षा गार्ड की तैनाती के साथ ही स्कूलों मैं साफ सफाई के लिए सफाई कर्मचारी की नियुक्ति का प्रस्ताव शामिल है. इसके अलावा डीबीसी कर्मियों के आश्रितों की भर्ती के संबंध में भी एजेंडा है, फिल्म पॉलिसी में परिवर्तन के साथ ही 1 जून को म्युनिसिपल डी मनाने से संबंधित प्रस्ताव भी बुधवार को आने वाली एजेंडा में शामिल किया गया है.

एजेंडा में शामिल एक प्रस्ताव पर नेता प्रतिपक्ष राजा इकबाल सिंह ने आम आदमी पार्टी के नेता और अफसर के बीच साथ घाट का आरोप लगाया है, इकबाल सिंह का कहना है कि दिल्ली नगर निगम में आम आदमी पार्टी के नेता और अधिकारी साथ काटकर टोल टैक्स एकत्रित करने वाली कंपनी को करीब 46 करोड रुपए की भुगतान करने संबंधी प्रस्ताव पास करना चाहती है, यह प्रस्ताव पहले भी पूर्व विशेष अधिकारी अश्वनी को मार के सामने आया था तब उन्होंने फाइल पर आपत्ति लगाकर वापस भेज दिया था इसी प्रस्ताव को दोबारा सदन में ले जाने वाला है, इस पर हवा का बोल विरोध करेंगे.
हालांकि इस प्रस्ताव को लेकर सत्ता पक्ष ने अपना पल्ला झाड़ लिया है उनका कहना है कि यह अधिकारियों का प्रस्ताव है