क्राइम ब्रांच ने दो हथियार तस्कर को किया गिरफ्तार, 7 पिस्टल और 17 कारतूस बरामद

Spread the love

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच उत्तरी रेंज-I की टीम ने 02 अवैध हथियार सप्लायर को गिरफ्तार किया है . गिरफ्तार आरोपी की पहचान
राजू, उम्र 38 वर्ष, और रवि, उम्र 30 वर्ष के तौर पर हुई है दोनों निवासी हटम पुर, बिजनौर, उत्तर प्रदेश को नांगलोई बस स्टैंड, दिल्ली से गिरफ्तार किया है . उनके कब्जे से 07 अवैध पिस्तौल व 17 जिंदा कारतूस, 01 चोरी की मोटरसाइकिल और 01 मारुति स्विफ्ट कार बरामद की गई है.

दिल्ली में अवैध हथियारों के इस्तेमाल की घटनाओं को देखते हुए उत्तरी रेंज-I/अपराध शाखा की टीम अवैध हथियारों की सप्लाई में लिप्त अपराधियों के बारे में सुचना एकत्र कर रही थी . ऐसे अपराधियों की सूची तैयार की गई व उनकी गतिविधियों का पता लगाने के लिए मैनुअल और तकनीकी निगरानी शुरू की गई. इस दिशा में काम करते हुए हेड कांस्टेबल नरेंद्र को सूचना मिली कि अवैध हथियार रखने वाले दो अपराधी दिल्ली के नांगलोई बस स्टैंड के पास आएंगे. अगर समय पर छापा मारा जाये तो उनको पकड़ा जा सकता है .

सूचना के आधार पर संयुक्त आयुक्त एसडी मिश्रा व उपायुक्त अंकित सिंह द्वारा सहायक आयुक्त विवेक त्यागी की देखरेख में एक टीम का गठन किया गया .जिसका नेतृत्व निरीक्षक पंकज ठाकरान कर रहे थे . जिसमें सहायक उप-निरीक्षक अमित मान, हेड कांस्टेबल राजेश, नरेंद्र, अमित, त्रिशपाल और कांस्टेबल सुरेंद्र शामिल थे . टीम द्वारा नांगलोई बस स्टैंड के पास एक जाल बिछाया गया और रवि व राजू दोनों आरोपीयों को पकड़ लिया गया .

पूछताछ:

पूछताछ के दौरान आरोपियों ने अपना नाम राजू, उम्र 38 वर्ष और रवि, उम्र 30 वर्ष, दोनों निवासी हटम पुर, बिजनौर, उत्तर प्रदेश बताया.

तलाशी लेने पर इनके कब्जे से 02 अवैध पिस्तौल के साथ 04 जिंदा कारतूस बरामद किए गए.

पूछताछ के दौरान उन्होंने खुलासा किया कि शुरू में वे आसानी से पैसा कमाने के लिए अपराध की दुनिया में शामिल हो गए और अपराध करने के लिए मध्य प्रदेश से हथियार खरीदते थे.

इससे पहले भी वह दिल्ली में अपराध करते हुए पकडे गए थे व इन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया गया था. जेल में वह दिल्ली के कई अपराधियों के संपर्क में आए और उन्होंने दिल्ली में अवैध हथियारों की आपूर्ति शुरू कर दी.

पूछताछ में उन्होंने यह भी खुलासा किया गया कि वे मणि सरदार, निवासी बुरहानपुर, मध्य प्रदेश से अवैध हथियार खरीद कर दिल्ली/एनसीआर के अपराधियों को सप्लाई करते थे.

जांच के दौरान, उनकी निशानदेही पर 05 अवैध पिस्तौल व 13 जिंदा कारतूस बरामद किए गए.

आरोपी रवि ने यह भी खुलासा किया कि हाल ही में उसने वाहन चुराना शुरू कर दिया था. उसकी निशानदेही पर चोरी की 01 कार और 01 मोटरसाइकिल भी बरामद की गई .

गिरफ्तार आरोपियों की प्रोफाइल:

1. राजू, उम्र 38 वर्ष, निवासी हटम पुर, बिजनौर, उत्तर प्रदेश का रहने वाला है व अनपढ़ है.वह दिल्ली आकर दूध बेचने का काम करने लगा व अपराधिक तत्वों के संपर्क में आ गया . दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम के साथ आरोपी की मुठभेड़ भी हुई थी जिसमे आरोपी के दोनों पैरो में गोली लगी थी.

2. रवि, उम्र 30 वर्ष, निवासी हटम पुर, बिजनौर, उत्तर प्रदेश का रहने वाला है व स्कूल की पढ़ाई बीच में ही छोड़ चुका है. जल्दी और आसानी से पैसा कमाने के लिए आरोपी चोरी और लूट की वारदात को अंजाम देने लगे. इसके बाद अपने बड़े भाई के नक्शेकदम पर चलते हुए उसने दिल्ली में अवैध हथियारों की आपूर्ति भी शुरू कर दी.