डॉक्टर को आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में आप विधायक प्रकाश जारवाल दोषी करार, भाजपा ने की निष्कासित करने की मांग

Spread the love

नई दिल्ली : दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने आज एक पत्रकार सम्मेलन में कहा है की दिल्ली भाजपा लगातार कहती रही है की मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी को अपराधिक एवं भ्रष्ट प्रवृति के लोगों की शरणस्थली बना दिया है और आज न्यायालय द्वारा विधायक प्रकाश जरवाल को हत्या का दोषी ठहराये जाने के बाद एक बार फिर आम आदमी पार्टी का काला चेहरा सामने आया है।

पत्रकार सम्मेलन का संयोजन दिल्ली भाजपा के मीडिया प्रमुख श्री प्रवीण शंकर कपूर ने किया और कहा आम आदमी पार्टी आज एक काली पार्टी है जिसके हर नेता पर कलंक है। मीडिया रिलेशन प्रमुख श्री विक्रम मित्तल भी उपस्थित थे।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है की विधायक प्रकाश जरवाल दक्षिण दिल्ली में टैंकर माफिया के संरक्षक हैं और 2021 में उनके चुनाव क्षेत्र के एक डाक्टर ने आत्महत्या की थी और एक पत्र छोड़ा था जिसमे विधायक प्रकाश जरवाल को अपने आर्थिक एवं मानसिक उत्पीड़न का दोषी ठहराया था जिसके बाद वह जेल मे रहे और वर्तमान में जमानत पर बाहर थे।

भाजपा लगातार मुख्य मंत्री से इस अपराधिक विधायक पर कार्रवाई की मांग करती रही पर केजरीवाल ने अपने इस भ्रष्ट नवरत्न पर कोई कार्रवाई नही की क्योंकि सम्भवतः जरवाल टैंकर माफिया से उगाही का बड़ा भाग पार्टी खाते में जमा कराते रहे होंगे।

श्री वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा है की आज सम्बंधित न्यायलय ने प्रकाश जरवाल को हत्या का दोषी करार दिया है जिसके बाद अब उनकी विधानसभा सदस्यता खत्म होना तय है।

नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि आम आदमी पार्टी अपराधियों का एक गिरोह है और जब प्रकाश जरवाल का मामला आया था उस समय भी भाजपा ने जोरदार विरोध किया था और उस वक्त भी अरविंद केजरीवाल ने अपने विधायक के बचाव में व्यक्तव्य दिया था।

उन्होंने कहा कि जब कोर्ट का फैसला आएगा तो जरवाल की विधायकी तो चली ही जाएगी लेकिन आज अरविंद केजरीवाल को डॉक्टर के परिवार से जरवाल का बचाव करने की माफी मांगनी चाहिए और जरवाल सहित दागी विधायकों को विधानसभा एवं पार्टी से निष्कासित करें।

भाजपा नेताओं ने कहा है की दिल्ली भाजपा मांग करती है की अरविंद केजरीवाल अविलंब ना सिर्फ विधायक प्रकाश जरवाल को बल्कि अमानुतुलाह खाँ, मनीष सिसोदिया, सत्येन्द्र जैन, सोमनाथ भारती, अखिलेश त्रिपाठी, संजीव झा आदि अन्य विधायकों जिन पर अपराधिक या भ्रष्टाचार के मुकदमे चल रहे हैं को विधानसभा एवं आम आदमी पार्टी से निष्कासित करें।